Opinion

हिन्दुओं को बेइज़्जत करने की होड़ में राजनीतिक दल और नेता क्यों ?

‘हिन्दुओं को हलुआ समझते हैं’श्रृंखला भाग-३

किसी को भगवान राम ‘रम’ में दिखते हैं तो कोई सरस्वती का विवाह उनके पिता ब्रह्मा से कराता है तो कोई माता सीता और भगवान राम को दंपत्ति के बदले भाई -बहन बताने के लिए किताब लिखता रहता है। जो हिन्दुओं को जितना अपमानित करे वह उतना महान नेता , उनपर ‘ईशनिंदा’ का मामला सुप्रीम कोर्ट भी नहीं लगाती क्यों ?

राजेश झा

हिन्दुओं की नाकद्री करने में राजनीतिक पार्टियों और राजनेताओं में होड़ सी लगी रहती है। किसी को भगवान राम ‘रम’ में दिखते हैं तो कोई सरस्वती का विवाह उनके पिता ब्रह्मा से कराता है तो कोई माता सीता और भगवान राम को दंपत्ति के बदले भाई -बहन बताने के लिए किताब लिखता रहता है।इन दिनों दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल , तृणमूल कांग्रेस की महुआ मोइत्रा ,राष्ट्रीय जनता दल के नेता कुमार दिवाशंकर ,पीस पार्टी के शादाब चौहान ,ओवैसी के भाई अकबरुद्दीन ओवैसी और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के नेता दानिश कुरैशी हिन्दू देवी देवताओं पर अपमानजनक टिप्पणियां करते हैं किन्तु सर्वोच्च न्यायालय को भी उसमें ‘ईश निंदा ‘ नहीं दिखती।

राम मंदिर पर हिंदुओं का मजाक उड़ाने के अलावा, 2019 में, सीएम केजरीवाल ने एक अपमानजनक तस्वीर साझा की, जहाँ एक व्यक्ति अपने हाथ में झाड़ू (उनकी पार्टी का प्रतीक) के साथ हिंदू पवित्र प्रतीक स्वास्तिक को पीटते हुए दूर भगाने की कोशिश कर रहा था।एक अन्य ट्वीट में, केजरीवाल ने भारत सरकार के साथ दिल्ली की आप सरकार के टकराव से ध्यान हटाने के लिए भगवान हनुमान द्वारा जेएनयू को जलाने का चित्रण करते हुए एक कार्टून साझा किया। टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र की एक तस्वीर साझा करते हुए कटाक्ष करते हुए लिखा था कि उम्मीद है कि यह खुदाई सूची में अगला नहीं होगा।


विवादास्पद इस्लामिक उपदेशक इलियास शरफुद्दीन ने भी शिवलिंग की तुलना पुरुष शरीर के अंग से की है और कहा है कि हिंदुओं को मूर्ति और पुरुष के निजी अंग की पूजा करने की आदत है। राष्ट्रीय जनता दल के नेता कुमार दिवाशंकर ने भी अपने ट्वीट में भाजपा का मजाक उड़ाते हुए शिवलिंग का अपमानजनक संदर्भ दिया।पीस पार्टी के शादाब चौहान ने भी वाराणसी की एक अदालत द्वारा ज्ञानवापी विवादित ढाँचे को सील करने के आदेश के बाद एक अपमानजनक ट्वीट किया, जब उसके वुजुखाना के अंदर एक शिवलिंग मिला। चौहान ने छोटे खंभों के साथ लगे एक किनारे की तस्वीर पोस्ट की थी, जिसमें दावा किया गया था कि अगर कोई शिवलिंग पर दावा करता है तो न्यायाधीश उस क्षेत्र को सील कर देंगे।ओवैसी के भाई अकबरुद्दीन ओवैसी ने भी हिन्दू देवी-देवताओं को ‘मनहूस’ कहा था। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के नेता दानिश कुरैशी ने भी ज्ञानवापी विवादित ढाँचे के अंदर शिवलिंग मिलने पर तंज कसते हुए सोशल मीडिया पर शिवलिंग पर बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी की थी।

Related Articles

Back to top button