News

प्रोजेक्ट कामधेनु” से गउओं को आश्रय देगा ‘गौ रक्षक सेवा ट्रस्ट’

बिना सरकारी मदद के निराश्रित गोवंश के लिए काम करेगा ‘प्रोजेक्ट कामधेनु’

लखनऊ। एक ओर गाय को जहां भारतीय सनातन समाज मे माता का दर्जा प्राप्त है। गऊ माता सनातन मतावलंबियों के लिए परम आराध्य हैं। वो धर्म और आस्था से सीधे जुड़ी हैं। वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश जैसे बड़े राज्य में जनसामान्य के लिए गौवंश को ही आज निराश्रित पशु के रूप में एक समस्या बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि निराश्रित गौवंश या अन्ना पशु आज किसानों खेतिहरों के लिए बड़ी मुश्किल बन चुके हैं। अभी अभी निपटे यूपी विधानसभा चुनाव में भी विपक्ष ने ‘सड़कों पर सांड’ जैसे वाक्यो से सत्तासीन भाजपा को घेरने की कोशिश की थी।

ऐसे में उपरोक्त समस्या के निदान के लिए ‘गऊ रक्षक सेवा ट्रस्ट’ नाम की एक संस्था सामने आयी है। संस्था ने ‘प्रोजेक्ट कामधेनु’ नामक जनसहभागिता योजना के माध्यम से निराश्रित गोवंश को आश्रय देने का बीड़ा उठाया है।

‘गऊ रक्षक सेवा ट्रस्ट’ नाम की इस संस्था के मुख्य कार्यकारी एवं संस्थापक अध्यक्ष संजय शर्मा ‘अमान’ ने ट्रस्ट के अन्य पदाधिकारियों के साथ शनिवार को राजधानी लखनऊ में एक प्रेसवार्ता की। इस दौरान उन्होंने कहा कि उनकी संस्था महाराष्ट्र प्रदेश में पूर्व से ही इस विषय को लेकर बड़ा काम कर रही है। अब वे उत्तर प्रदेश में निराश्रित गौवंश को आश्रय देने के लिए काम करने जा रहे हैं। संस्था ने इसके लिए ‘प्रोजेक्ट कामधेनु’ नामक योजना तैयार की है।

यद्यपि संस्था को ‘प्रोजेक्ट कामधेनु’ के लिए ढेर सारे धन की आवश्यकता होगी, परन्तु संस्था इसके लिए सरकार से किसी प्रकार की मदद नहीं लेगी। संस्था इस पुनीत कार्य हेतु निजी क्षेत्र और सामाजिक समूहों से सहायता लेगी। पूरे प्रदेश में संस्था 200 गौसेवकों के द्वारा इस योजना का क्रियान्वयन सुनिश्चित करेगी। संस्था इसके लिए औद्योगिक और व्यावसायिक क्षेत्र से फंड जुटाने का काम करेगी। बड़े उद्योग समूहों द्वारा ‘कार्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी’ स्कीम के तहत समाज के विभिन्न क्षेत्रों में मदद की जाती है। संस्था इसी सीएसआर फंड को अपनी ताकत बनाएगी। इसके अतिरिक्त संस्था समाज के अन्य मददगार समूहों से भी संपर्क करेगी।

हम सरकार से मदद लेने नहीं मदद करने आये हैं – संजय अमान

प्रेसवार्ता में ‘गउ रक्षक सेवा ट्रस्ट’ के अध्यक्ष संजय शर्मा अमान ने कहा कि हम सरकार से मदद लेने नहीं सरकार की मदद करने आये हैं। संजय अमान ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं धर्म की रक्षा हेतु गौवंश संरक्षण की दिशा में बड़ा कार्य कर रहे हैं। हम उन्ही की मंशा के अनुरूप प्रदेश में काम करने आये हैं। हमे पूरा विश्वास है कि निराश्रित गौवंश को आश्रय-प्रश्रय देने के इस कार्य मे हमे महाराज जी का पूरा आशीर्वाद प्राप्त होगा। प्रेसवार्ता के दौरान संस्था से जुड़े पदाधिकारी गणों में हेमलता त्रिपाठी, बिजेन्द्र विश्वकर्मा आदि विशेष रूप से उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button